0% off

Goggal dhop ( गुग्गल धूप )

40 40 0% off

Store: admin

गुग्गल धूप 

गुग्गुल का उपयोग सुगंध

इत्र व औषधि में भी किया जाता है। इसकी महक मीठी होती है और आग में डालने पर वह स्थान सुंगध से भर जाता है। अक्सर गुरुवार को इसकी धूप घर में दी जाती है।

Deliver to
1. दिल और दिमाग के दर्द में राहत : गुग्गल की सुगंध से जहां आपके मस्तिष्क का दर्द और उससे संबंधित रोगों का नाश हो जाता है। इसे दिल के दर्द में भी लाभदायक माना गया है।
 
 
2. कुछ नेगेटिविटी : घर में साफ-सफाई रखते हुए पीपल के पत्ते से 7 दिन तक घर में गौमूत्र के छींटे मारें एवं तत्पश्चात शुद्ध गुग्गल की धूप जला दें। इससे घर में किसी ने कुछ कर रखा होगा तो वह दूर हो जाएगा।
 
 
3.गृह कलह शांत हो : हफ्ते में 1 बार किसी भी दिन घर में कंडे जलाकर गुग्गुल या गुग्गल की धूनी देने से गृह कलह शांत होता है।
 
4.तनाव और अनिद्रा में राहत : यदि आपको किसी भी प्रकार का तनाव है या चिंता है तो गुग्गुल की धूप से राहत मिलेगी। इससे रात में अच्छी नींद भी आती है।
 
5.पारलौकिक मदद के लिए : कहते हैं कि इस धूप से पारलौकिक या दिव्य शक्तियां आकर्षित होती है और व्यक्ति को उनसे मदद मिलती है। गुरुवार को किसी मंदिर या समाधी पर इसकी धूप लगाएं। यह धूप देवताओं के निमित्त ही देना चाहिए।
 
कैसे दें धूप : सर्वप्रथम एक कंडा जलाएं। फिर कुछ देर बार जब उसके अंगारे ही रह जाएं तब उस पर गुग्गुल डाल दें। इससे संपूर्ण घर में एक सुगंधित धुआं फैल जाएगा। अक्सर यह धूप गुरुवार और रविवार को दी जाती है।
Weight 2.1 kg
Dimensions 122 × 145 × 321 cm

You may also like…